11 बेहतरीन टिप्स – अच्छी जिंदगी कैसे जिए? Achhi Zindagi kaise Jiye in Hindi

Spread the love

दोस्तों आज के इस लेख में हम आपको बताएँगे “अच्छी जिंदगी कैसे जिए”। कि  यह सवाल हर इंसान के मन में जरूर उठता है उसके जीवन में कोई परेशानी ना आए लेकिन ऐसा हो इसकी संभावना बहुत ही कम रहती है सुख और दुःख जीवन में निरंतर चलते रहते हैहर इंसान को अपनी जिंदगी में “कभी खुशी कभी गम” का सामना करना ही पड़ता हैं। जीवन में समस्याएं तो आती ही रहती है, परन्तु जब हम ये मान लेते है की मेरी किस्मत में तो सुख है ही नही, सब मेरे किस्मत का दोष है, यही सोच इंसान के लिए बहुत ही घातक होती है। हम जीवन में जो भी करते है खुश रहने के लिए करते है लेकिन ये जरुरी नहीं कि हर वक्त ख़ुशी ही मिले इंसान को दुखी सिर्फ दुःख करते है और जब दुःख खत्म हो जाते है तो स्वत: सुख आ जाते है अगर आप जीवन में दुखों का सामना नहीं करेंगे तो आप सुखी नहीं रहे सकते है

अच्छी-जिंदगी-कैसे-जिए
अच्छी जिंदगी

अच्छी जिंदगी कैसे जिए?

यह सर्वविदित है की एक दिन सभी को मरना ही है, फिर भी हम किसी ना किसी बात से दुखी रहते है। इसलिए ज़िन्दगी को हमेशा हंसी-ख़ुशी के साथ जिए। आज मै आपको ऐसे ही आपके जीवन से जुड़े कुछ उन पहलुओं के बारे में बात करने जा रही हूँ, जिनसे प्रत्येक इंसान का आये दिन कहीं न कहीं सामना हो ही जाता है। तो आइये जानते है एक अच्छी जिंदगी कैसे जिए।

एक अच्छा जीवन जीने के 11 बेहतरीन टिप्स 11 tips for Achhi Zindagi kaise jiye in hindi 

1. खुद से करें प्यार :

जीवन ईश्वर द्वारा प्रदान की हुई एक बहुत ही खुबसूरत, अद्भुत और अनमोल तोहफा है, इसलिए व्यर्थ में इसे नही गवाना चाहिए। हमेशा अपने आप पर इतना भरोसा रखें की आप कुछ भी कर सकते है। वैसे इंसान जिन्हें खुद से प्यार होता है कभी भी दुखी नही होते चाहे हालात जो भी हो, वो हर हाल में खुद को अच्छा और खुशियों से भरे रखते है। 

2. अपनी हॉबी (शौक) को पहचाने :

हर इंसान की कुछ न कुछ हॉबी(शौक) जरुर होती है जैसे:पेंटिंग, म्यूजिक, किताब पढना या लिखना, खेल-कूद, नृत्य(डांस) इत्यादि। हर इंसान को खुश रहने के लिए किसी न किसी हॉबी को अपनी दिनचर्या में जरुर शामिल करना चाहिए। हमे ये पता होना बेहद जरुरी है की अपने काम के साथ कौन सी हॉबी(शौक) आपके मन को प्रसन रखती है और उस काम को करने से आप तनाव मुक्त रहते है। इसलिए अपनी हॉबी(शौक) को पहचानना और दिनचर्या में शामिल करना अति आवश्यक है 

3. चिंता ना करें :

आपने ये कहावत सुनी होगी कि चिंता आदमी को अंदर से खाती है और एक दिन उसे जिंदा लाश, चिता बना देती हैं। अगर आप अपनी जिंदगी खुशी से जीना चाहते है तो सबसे पहले चिंता करना बंद करें। जिंदगी में आने वाली समस्याओं से घबराये नही और ना ही उसके लिए ज्यादा चिंतित हो बजाये इसके समाधान का तरीका निकाले। आप खुद को दूसरों की सोच के अनुसार न ढालें। 

 

इसे भी पढ़े :- योगासन : एसिडिटी (गैस) का रामबाण इलाज

4. अपनी सोच सही रखें :

 

इंसान की सोच जैसी होती है उसके साथ वैसा ही होता है। यदि आपकी सोच नकारात्मक यानि गलत होगी तो कभी भी आप खुश नही रह पाएंगे। इसलिए इंसान को हमेशा यही कोशिश करनी चाहिए की उसकी सोच सकारात्मक हो। आप जिंदगी से जो भी उम्मीद रखते है जरूरी नही की वो सब पूरी ही हो जाए। इसका ये मतलब नही की आप निराश हो जाए। जिंदगी ने जो भी हमें दिया वो काफी है, इसे खुशी-ख़ुशी स्वीकार करनी चाहिए। जिस दिन ऐसी भावना आपके अंदर आ जाएगी उस दिन से आप कभी भी अपने आप को दुखी महसूस नही करेंगे। ऐसा लगेगा की आप इस दुनिया के सबसे खुशकिस्मत इंसान है जिसे जिंदगी में  सब कुछ मिल गया है। 

5. खुद की कमजोरियों और बुराईयों को स्वीकार करें :

खुद की कमजोरियों और बुराईयों को स्वीकारना भी सुखी जीवन जीने का बहुत ही महत्वपूर्ण नियम है। खुद पर ध्यान दें की आप क्या कर रहे है। अगर आप कुछ गलत कर रहें है तो उस पर ध्यान दे और उस गलती को स्वीकार करके उसका सामना करें। जो भी गलतियाँ आपने की है सबको सुधारने की कोशिश करें। जब तक आप ऐसा नही करेंगे तब तक आपका जीवन खुशहाल नही हो पायेगा। आप में खुद में जो भी कमी है जिससे आप दुखी रहते है सबको अपने आप से बाहर कर दें फिर देखिये कैसे आप स्वयं खुश रहने लगेंगे। 

6. अपने प्रियजनों के साथ समय व्यतीत करें :

 

किसी भी इंसान के जीवन का मूल आधार उसका परिवार होता है। आजकल इस भाग-दौर की ज़िन्दगी में ज्यादातर लोग परिवार के साथ ज्यादा समय नही बिता पाते। हर समय अपने आपको काम में ही व्यस्त रखते है। उनका मानना है की जितना ज्यादा पैसा कमाएंगे उतना ही सुख-सुविधा अपने घर-परिवार वालों को दे सकेंगे। बहुत से लोग ये सोचते है कि मेरे पास सुख सुविधा से लैस अच्छा घर, कार इत्यादि होता तो मै खुश रहता! लेकिन यही सोच तो सही नही है, जो है उसी में खुश रहे। अपने दोस्तों और परिवार के लोगों के साथ हमेशा अच्छा संबंध बना कर रखे। उनके दुःख में हमेशा साथ रहें। आप लोगों ने एक कहावत तो सुनी होगी “दुःख बांटने से दुःख कम हो जाता है”। एक खुशमिजाज इंसान हमेशा अपना समय दोस्तों और परिवार के लोगों के साथ हँसते हुए बिताता है। दोस्तों और परिवार के संग बिताया हुआ हर एक पल आपके जीवन के वो अनमोल पल होते है जो आपके जीवन को खुशियों से भर देते है।

7. खुद की तुलना दूसरों से ना करें :

दुनिया में जितने भी इंसान है सभी एक सामान नही है। सबकी खूबियाँ भी एक सामान नही होती है। इसलिए आप अपने अंदर की खूबियों को पहचाने फिर देखिये कैसे आपकी जिंदगी खुशियों से भर जाती है। अक्सर लोग खुद की तुलना दुसरो से करते है ऐसा करके वो अपनी खूबी के बदले अपनी कमजोरी की तुलना दुसरे लोगो की ताकत के साथ करने लगते है। हमेशा अपनी सोच ऐसी रखे कि आपको अपने व्यक्तित्व को किसी भी दूसरे के जैसा नही अपितु उससे बेहतर बनाना है। आपके पास जो है उसी में खुश रहना सीखिए।

8. ईमानदार बने :

 

सुखी जीवन जीने के लिए जीवन में ईमानदार इंसान बनना बहुत ही जरुरी होता है झूठ आपको हमेशा छल के जाल में उलझता जाता है जिस कारण आप खुलकर ज़िंदगी को जी नही पाते। यदि आपके व्यक्तित्व में ईमानदारी है तो आप विषम परिस्थिति में भी तनाव ग्रस्त नही रहेंगे

 

9. दिल की बात सुने :

 

जो भी काम करके आप का मन खुश होता है और उस काम को करने से किसी को कोई नुकसान नही होता है, तो आपको वही काम जरुर करना चाहिए। जब आप अपने मन के हिसाब से काम करेंगे तो हर पल ख़ुशी महसूस करेंगे जिससे अपने आप आपकी जिंदगी खुशहाल हो जाएगी। कई बार ऐसा भी होता है की दिल से लिए गये निर्णय गलत हो जाते है, लेकिन उसके लिए कभी अफ़सोस नही करना चाहिए क्योंकि वह निर्णय आपके स्वंय का होता है। ये जरुरी नही है की हमेशा हम दिमाग की ही सुने। एक अच्छी जिंदगी जीने के लिए हमे निर्णय खुद से और दिल से भी लेना चाहिए।

 

10. धैर्य रखना सीखें :

 

कहते हैं कर्मधैर्य और सहनशीलता ऐसी चाबियाँ है जिससे सफलता के सभी ताले खुल जाते हैं। हर परिस्थिति में हमें धैर्य बनाये रखना चाहिए क्योंकि समय हमेशा एक समान नही रहता है। जैसे- रात के बाद दिन और दिन के फिर रात आती है उसी प्रकार सुख-दुःख भी समय के साथ बदलता रहता है। इसलिए हमें हर परिस्थिति में धैर्य बनाये रखना चाहिए और मन में विशवास रखना चाहिए सब अच्छा होगा। जीवन में कितनी भी बड़ी मुसीबत क्यों ना आ जाए। कितना भी बुरा वक्त क्यों न आ जाए, आपको हमेशा यही सोचना चाहिए कि वक्त के साथ सब सही हो जाएगा। ये सोच रखने वाले लोग जीवन में हमेशा खुश रहते हैं भले ही तकलीफ कितनी भी बड़ी क्यों ना हो। एक धैर्यवान व्यक्ति हमेशा मन से शांत, प्रसन्न और ऊर्जावान रहता है।

 

11. वर्तमान में जीना सीखें :

कई लोग ऐसे होते है जो अपने बीते दिनों को लेकर दुखी रहते है, तो कुछ लोग ऐसे भी होते है जो भविष्य यानि आने समय के बारे में सोच कर दुखी रहते है हमारा बिता हुआ कल कैसा था और आने वाला कल कैसा होगा, इसके लिए हमें ज्यादा सोच-विचार नही करना चाहिए अगर आप खुशी से जीवन जीना चाहते है अपने आज यानि वर्तमान के बारे में सोचें। हमें अपने वर्त्तमान यानि आज को बेहतर बनाने के लिए प्रयास करना चाहिए। जब आपका आज यानि वर्त्तमान ठीक हो जायेगा तो भविष्य अपने आप ही ठीक हो जायेगा। जिससे आपकी जिंदगी भी खुशनुमा हो जाएगी। अगर अतीत में जीना है तो उन बातों को याद करें जो आपको खुशी दें।

 

अंत में :

 

तो दोस्तों आज के इस आर्टिकल अच्छी जिंदगी कैसे जिए”, में मैंने एक स्वस्थ और अच्छे जीवन के 11 बेहतरीन तरीकों के बारे में बताई हूँ। उम्मीद करती हूँ कि आपको मेरा यह लेख पसंद आया होगा। अगर आपको इस लेख में बताई बातों से खुश रहने में कोई मदद मिले तो मुझे कमेंट में जरुर बताएगा और साथ ही अपने दोस्तों और सोशल मीडिया में शेयर जरुर करें ताकि और भी लोगों को इसके बारे में जानकारी मिल सके

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

6 thoughts on “11 बेहतरीन टिप्स – अच्छी जिंदगी कैसे जिए? Achhi Zindagi kaise Jiye in Hindi”

Leave a Comment